Saturday, April 16, 2016

Hamla: Pawan Bhardwaj goes missing with his mother and son Rohan (Episode 647, 648 on 15th, 16th April, 2016

Attack
हमला



40 year old Pawan Bharadwaj is a wealthy person and brother of Nikhil Bharadwaj who works in CRPF. These brothers acquires property of around 5 core. Four years before Pawan's wife Rajni left their home because Pawan is an alcoholic person and was not taking any responsibility on his own. Rajni leaves the home after a limit of frustration when she feels that her mother-in-law and Pawan both will never going to support her.

Nikhil and their mother wants Pawan will get re-marry and Pawan is also agree with this. They fix his second marriage from Azamgarh and the girl Ankita, he will go marry is around 10 years younger to him. A morning Pawan, his mother and his small kid Rohan moves towards Azamgarh on his own car. Pawan is in contact with Nikhil and Nikhil has a talk with him just before leaving from home and near after two hours Pawan and his mother, both mobile number becomes unreachable.

After getting zero response from Pawan, Nikhil raises their missing complain where police tells him that UP Police found Pawan's car in Varanasi. Nikhil confirms that the car belongs to Pawan and the car has none of their belongings.

पवन भरद्वाज (राजीव कुमार)  और निखिल भारद्वाज सगे भाई है। निखिल CRPF का जवान है और अपनी पत्नी के साथ अलग रहता है जब कि पवन कुछ नहीं करता है और अपनी प्रॉपर्टी और बागों की कमाई के बूते पर अपनी, अपने बेटे रोहन और अपनी माँ की ज़िंदगी काट रहा है। पवन को पीने का शौक है जो की लगभग रोजाना चलता है और इसी के चलते उसकी पत्नी रजनी (गीतांजली मिश्रा) ने उसका घर छोड़ दिया था। पवन-निखिल की पूरी संपत्ति करीब पांच करोड़ की है जो की उनके पिता के नाम पे रजिस्टर्ड है।

निखिल और पवन की माँ चाहते हैं की पवन दूसरी शादी कर ले और इसकी लिए वो उसको मना भी लेते हैं। पवन को उसकी माँ के साथ आजमगढ़ अपनी दूसरी होने वाले पत्नी अंकिता से मिलने जाना है और इसके लिए निखिल भी पवन पर दबाव दाल रहा है की वो अंकिता से मिले और शादी कर ले जिससे रोहन की देखभाल भी ठीक से हो सके। पवन, रोहन और उसकी माँ तीनो सुबह आज़मगढ़ के लिए निकल जाते हैं और निकलने के दो घंटे बाद उनका मोबाइल नंबर मिलना बंद हो जाता है। अगले दिन कार बनारस में पाई जाती है और पुलिस कार के रजिस्ट्रेशन नंबर से खोज कर निखिल को बताती है। निखिल पहुंच कर कन्फर्म करता है की कार उसी की है। निखिल ये देख कर हैरान है की कार बनारस में क्यों मिली जबकि उनलोगों को तो आज़मगढ़ जाना था और कार पूरी खाली है तो तीनो लोग गए कहाँ।
पुलिस इन तीनो लोगों की मिसिंग कम्प्लेन रजिस्टर करती है और उसके बाद इटावा पुलिस को रोहन की लाश मिलती है। पवन और उसकी माँ अभी भी मिसिंग है।

पुलिस के शक के रडार में निखिल, रजनी और पवन की होने वाले पत्नी अंकिता हैं, मगर तभी पुलिस को एक और चौंकाने वाली खबर मिलती है।

SonyLiv: 
Part 1: http://www.sonyliv.com/details/episodes/Hamla
Part 2: http://www.sonyliv.com/details/episodes/Hamla-2

YouTube: 
Part 1: http://www.youtube.com/watch?v=_pOo3Y6Pruc
Part 2: http://www.youtube.com/watch?v=rjrk6BD-x_8

Here is the inside story of the case:
http://thrill-suspense.blogspot.com/2016/04/crime-patrol-cops-pick-up-woman-in.html



Search Tags: Rajendra Joshi, Kamla Joshi, Bhaskar, Sanjay Pant, Shyampur, Dehradun, Pithoragarh, Bilaspur, Rampur, Udham Singh Nagar, Deepak, Sitarganj, Chanchal

No comments:

Post a Comment

You comment will be live after moderation....

You might also like