Sunday, July 24, 2016

Naraz: Waseem killed, raped corpse and dumped body of own brother's wife Nilofar (Episode 687, 688 on 23rd, 24th July, 2016)

नाराज़
Annoyed



25 year old Nilofar is a beautiful girl married to Imraan who works as a security guard. Waseem is his elder brother who has a small catering business. A day Waseem informs his cousin and a friend that he has got supari to kill some woman and for this he will get handful of amount. They executes the plan and after they has killed that woman, rest two boys comes to know that they killed none other than Waseem's own brother Imraan's wife Nilofar and this murder was preplanned by Waseem. When they asks Waseem that why did he do this he does not tell them anything.

After the murder Waseem also rapes dead-body of Nilofar. Later they undresses her, takes out every ornament and throws body in a dump yard.

Imraan and all his relative are now worrying that where Nilofar suddenly went without telling anything to anyone. Waseem starts his another game-plan and starts telling Imraan that Nilofar has left him and his family and she is not going to comeback. After few days he also tells Imraan that he saw Nilophar somewhere but when he called her she ran away. Imraan is all confused that his family life was going well then why Nilofar will leave him.
Cleaners of that dump-yard finds this dead body after 5 days of murder and during postmortem doctor mis-identifies actual age of the body and declares it as near 45 year old.

SonyLiv: 
Part 1: http://www.sonyliv.com/Crime-Patrol-Satark-Naraz
Part 2: http://www.sonyliv.com/Crime-Patrol-Satark-Naraz-2

YouTube: 
Part 1: https://www.youtube.com/watch?v=In6WU_mc6Ns
Part 2: https://www.youtube.com/watch?v=BRlCsUuTNUQ

नीलोफर एक पच्चीस वर्षीय शादी शुदा महिला है जो की अपने पति इमरान और बेटे के साथ रहती है। उनके परिवार में सब कुछ अच्छा चल रहा है। वसीम इमरान का बड़ा भाई है जो की खाने-पीने से सम्बंधित के ठेला चलता है जबकि इमरान सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करता है। वसीम अपने एक दोस्त और एक रिश्तेदार को बुला कर बताता है की उसको एक औरत को मारने की सुपारी मिली है, अगर वो दोनों भी उसकी मदद करे तो सभी का फायदा होगा। वो दोनों राजी हो जाते हैं। अगले दिन इमरान के जाने के बाद वसीम इमरान के घर पहुचता है और नीलोफर को किसी काम से बुलाकर अपने घर लाता है। नीलोफर जैसे ही घर में घुसती है तीनो उसपर झपट कर उसका गाला घोट कर उसको मार देते हैं। बाकि दोनों बाद में ये देख कर हैरान होते हैं की ये तो वसीम के छोटे भाई की पत्नी है। वसीम उनको बोलता है की हाँ उसका प्लान नीलोफर को मारने का ही था।

मारने के बाद नीलोफर के सारे कपडे निकाले जाते हैं और वसीम नीलोफर की लाश के साथ कुकर्म करता है। उसके सारे गहने भी उतारने के बाद वो लोग उसको एक बोरे में भर के पास के कूड़ाघर में फेक आते हैं। इमरान परेशान है की नीलोफर उसको बिना बताये कहाँ चली गई जबकि वसीम उसको भड़कता है की नीलोफर उसको धोखा देकर भाग गई है।

पुलिस को पांच दिन बाद वो लाश मिलती है जो की काफी बुरी हालत में है और फूल गई है। पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट में ये खुलासा तो हो  गाला घोट के मारने के बाद लाश के साथ कुकर्म हुआ है मगर पोस्टमॉर्टेम करते समय लाश के काफी फूले होने की वजह से पच्चीस साल की नीलोफर को वो लोग 40-45 साल की बता देते हैं।

इमरान पुलिस में नीलोफर की मिसिंग कंप्लेन दर्ज करता है मगर पुलिस को कोई सुराग नहीं मिल पाता। दूसरी और वसीम अपना दूरस पैतरा डालता है और इमरान को बताता है की उसने नीलोफर को मुंबई के किसी और इलाके में दो बार देखा और आवाज़ लगाने पर वो भाग गई।

Here is the inside story of the case:
http://thrill-suspense.blogspot.com/2016/07/crime-patrol-spurned-man-kills-sister.html



No comments:

Post a Comment

You comment will be live after moderation....