Sunday, August 28, 2016

Tiraskaar: Double murder of mother Sarita and her Special Child Teena (Episode 701 on 26 August, 2016)

तिरस्कार
Dishonor



Dheeraj Ahuja is a bank employee who lives with his wife Sarita and daughter Teena. Teena is a special child who needs extra care and attention. A day when Dhiraj comes back from his office and rings the doorbell, no one opens the door. He gets nervous and tries to peep into the house breaking a window glass. He is shocked to see blood all over inside the house. Police is called immediately and when police enters home they finds Sarita's dead body in a pool of blood. They also finds Teena's dead body on her bed. Sarita was killed with a roller-pin and a kitchen knife while Teena was killed by strangulating. The killer has flees with near 25,000 cash .

Police and forensic team observes that the killer must have got injured on his right hand because he did most of the operations with his left hand like strangulation and opening up the locker. Police also assures that killer must be a well known to Sarita. Forensic team also finds blood drop near footsteps of the killer from that house toward the back gate.

#TiraskaarPolice's prime is Dhiraj Ahuja itself because police observes that he is also has a injury on his right hand Dhiraj did not tell police that there is a back door in the house from where the killer entered into the house.

धीरज आहूजा एक बैंक कर्मचारी हैं जो अपनी अपने पत्नी सरिता और बेटी तीन के साथ रहते हैं। उनकी बेटी तीन एक स्पेशल चाइल्ड है जिसको की ख़ास देखभाल की ज़रुरत रहती है। एक शाम जब धीरज आहूजा बैंक से अपने घर वापस आते हैं तो कई बार बेल बजाने के बाद भी घर का दरवाज़ा नहीं खुलता है तो वो परेशान हो जाते हैं। वो खिड़की की कांच तोड़ कर अंदर झांकते हैं तो घर के अंदर खून ही खून दिखाई देता है। तुरंत पुलिस को बुलाया जाता है, पुलिस दरवाज़ा खोल कर अंदर जाती है तो पाती है की माँ-बेटी दोनों का ही बेरहमी से क़त्ल किया गया है। माँ सरिता की हत्या चकले-बेलन से की गई है जब की बेटी की हत्या गाला घोट कर की गई है। हत्यारा हत्या के बाद घर के लाकर में रखा कैश लेकर गया है।

पुलिस और फोरेंसिक जांच के अनुसार हत्या करते समय हत्यारे के दाएं हाथ में चोट लगी है जिसकी वजह से उसने कुछ वारदातें बाएं हाथ से की हैं। घर पे कातिल के जूतों के खून से सने निशान भी हैं जिसके साथ कातिल के हाथ से टपकती बूदों के निशान भी।

पुलिस को सबसे पहले शक धीरज आहूजा पर ही होता है क्योंकि उसके दाए हाथ पे भी पट्टी बंधी है और उन्होंने ये बात पुलिस को नहीं बताई थी की घर के पीछे भी एक दरवाज़ा है अंदर जाने के लिए जिसके द्वारा हत्यारे ने ये सारा काण्ड किया।




SonyLiv: http://www.sonyliv.com/Tiraskar-Crime-Patrol-Satark

YouTube: https://www.youtube.com/watch?v=bOD0q6UZroI

Here is the inside story of the case:
http://thrill-suspense.blogspot.com/2016/08/crime-patrol-wife-daughter-of-bank.html

No comments:

Post a Comment

You comment will be live after moderation....

You might also like