Friday, February 8, 2013

Rajkot, Hansa comes back after 3 months of her Death (Episode 210, 211 on 9th-10th Feb 2013)

Dead woman comes back alive- Rajkot, Gujrat
मृत महिला जीवित वापस लौटी- राजकोट, गुजरात

Rajkot, Gujrat
Hansa Parmar (played by Disha Salva and real name Meena Khuman, 27) is wife of Ramesh Parmar (real name Harsur) who is a Govt School Teacher. Their economic condition is not good. Hansa is not able to afford home expenses including his mother-in-law and father-in-law's expenses. Asking Ramesh, he always forces Hansa to talk to her mother father to sell their old land so-that money can be distributed among all of us. Daily fight between both of them forces her to commit suicide by burning herself. Hansa commits suicide and his Husband and in-laws cremate her without informing police. Later on complain from Hansa's mother, father and brother, police arrests Ramesh and his parents for forcing Hansa to commit suicide.

3 months after death of Hansa a police informer (khabri) Kaalu sees Hansa sitting in a truck. He is terrorized and informs police that he has just seen ghost of Hansa, the lady who burnt herself few months back.

Whats whole mistery? Lets lets unfold here.


Here is the inside story of the case:
http://thrill-suspense.blogspot.com/2013/02/crime-patrol-dastak-Episode-209-210-on-9th-10th-Feb-2013.html


राजकोट, गुजरात
हंसा परमार (असली नाम मीना खुमान, 27) सरकारी स्कूल टीचर रमेश परमार (असली नाम हर्सुर परमार) की पत्नी है. इनके परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है. हंसा को रमेश की कम तन्खा में पूरे घर का खर्चा चलाना होता है साथ ही अपने सास-ससुर की देखभाल भी करनी होती है. रमेश से जब भी वो बोलती है की घर का खर्चा नहीं चल पा रहा है तो रमेश उससे कहता है की वो अपने माँ-बाप से बात करके अपने मायके की ज़मीन बिकवाए जिससे की रकम का बटवारा होकर सभी को अपना अपना हिस्सा मिले. हंसा ये सब अपने घर वालो को बताती है. दोनों के घर वाले मिल कर दोनों की सुलह कराते हैं मगर बात नहीं बनती. दोनों के बीच के झगडे दिन पर दिन बढते जाते है और एक दिन हंसा खुद को जला कर आत्महत्या कर लेती है. उसकी लाश बुरी तरह से जल जाती है. रमेश और उसके ससुराल वाले उसका अंतिम संस्कार पुलिस को बताये बिना कर देते हैं. हंसा के घर वाले पुलिस में शिकायत दर्ज करते हैं की उन्ही की वजह से हंसा ने आत्महत्या की है. पुलिस रमेश और उसके घर वालों को गिरफ्तार कर लेती है.

हंसा की मृत्यु के ३ महीने बाद पुलिस का एक खबरी कालू हंसा को एक ट्रक में बैठे हुए देखता है. कालू उसको भूत समझ कर बुरी तरह से डर जाता है और पुलिस को खबर करता है. पुलिस भी ये मानने को तैयार नहीं है की हंसा जिंदा कैसे हो सकती है!!

आखिर ये पूरा रहस्य है क्या? आइये इस रहस्य से पर्दा उठाये:
इस घटना के पीछे की सच्चाई जानने के लिए यहाँ क्लिक करे.

Search Tag: Who played Hansa

No comments:

Post a Comment

You comment will be live after moderation....