Monday, August 17, 2015

Rihaee: Son bails mother after nineteen years of Imprisonment (Episode 543 on 14th Aug, 2015)

रिहाई
Dismission


49 year old Meena Awasthi got lifetime imprisonment 19 year back in a murder case. She got punishment on basis of circumstantial evidences. The case could have been challenged in the High Court 19 years ago but no one did. No one came to take responsibility of this case, neither husband nor her father-in-law.

When Meena went into prison, she was pregnant and her son Madhav born in the jail itself and later he was sent to children's home. Now Madhav has grown up and working in a cloth factory. He often goes and meet her mother in jail and willing to bring her out of there. One of Meena's companion in jail is getting bail and she tells her about an advocate from Allahabad Court Satyaved Dixit who took her case. Meena tells Madhav about Satyaved and Madhav goes to meet him.

Satyaved goes through the entire case history and assures Madhav that his mother will soon be released.

Vijai Kumari and Kanhaiya
मीना अवस्थी को 19 साल पहले एक क़त्ल के जुर्म में उम्रकैद की सजा हुई थी। जब वो जेल गई तब प्रेग्नेंट थी और सज़ा के पहले ही साल में उसने एक बच्चे को जन्म दिया था। उस बच्चे का नाम माधव रखा गया और पैदा होने के कुछ साल बाद उसे बाल गृह में भेज दिया गया। माधव अब एक कपडा फैक्ट्री में काम करता है। वो अक्सर अपनी माँ से मिलने जाता रहता है और उसकी इच्छा है की वो अपनी माँ को जेल से निकलवा सके।

मीना के साथ की एक महिला जेल से निकलने वाली है। वो मीना को वकील सत्यवेद के बारे में बताती है जिनकी मदद से बिना किसी खर्चे के वो जेल से निकल रही है। मीना इन वकील के बारे में माधव को बताती है और माधव सत्यवेद से मिलने इलाहाबाद जाता है।

​सत्यवेद मीना के केस की साड़ी जानकारी इकठ्ठा करते हैं और बताते हैं की मीना को 1993 में परिस्थिति जनक साक्षों के आधार पर सजा दी गई थी। ये केस हाईकोर्ट में 19 साल पहले ही लड़ा जा सकता था मगर तब कोई सामने नहीं आया, न माधव के पिता और न ही बाबा। सत्यवेद पूरे केस को समझने के बाद माधव को आश्वस्त करते हैं की मीना जल्दी ही जेल से बहार निकलेगी।

SonyLiv: 
http://www.sonyliv.com/watch/crime-patrol-satark-14th-august-2015-rihaee

YouTube: 
http://www.youtube.com/watch?v=Md-8Ww-TFJ0


Here is the inside story of the case:
http://thrill-suspense.blogspot.com/2015/08/crime-patrol-india-jail-born-man-bails.html


No comments:

Post a Comment

You comment will be live after moderation....