Saturday, July 19, 2014

Overlooked: Diamond Heist from Bank's Locker (Episode 395 on 1 July 2014)

Overlooked
अनदेखा


Yogesh is a diamond trader who keeps his diamonds in National People Bank's locker. He is shocked to see that his diamonds of rupees lacs are missing from his locker. When he tells this to manager Vinayak, managers tells him that it is not a bit possible. Other people and family members also tells him that he must have forgot it after putting diamonds somewhere else. It was a 2008 incident.

Same happens again with Yogesh in 2011. His diamonds are again missing from locker of the bank. Yogesh files a police complain and police starts investigation. They understand entire process from which a customer uses his locker. Later he tells manager to call few other jewellers who are also keeping their assets in the locker of the bank. Manager calls all the customer and when they check their lockers, they are shocked to see that diamonds of total 2 crore are missing from all jewellers lockers.

हीरे जवाहरात के एक व्यापारी योगेश जो की अपने हीरों को हिफाज़त से रखने के लिए नेशनल पीपल बैंक के लाकर में रखता है, ये देख कर हैरान है की उसके हीरे वहां से गायब हैं. ये बात 2008 की है. बैंक का मेनेजर विनायक जानता है की ये संभव नहीं है इसलिए बैंक और योगेश के घर वाले यही बोलते हैं की वो हीरे बैंक की जगह कहीं और रख कर भूल गया होगा.

बात आई गई हो जाती है. 2011 में एक बार फिर योगेश के साथ यही होता है. उसे अपने रखे हुए हीरे बैंक के लाकर से गायब मिलते हैं. इस बार योगेश पुलिस में कंप्लेंन करता है. पुलिस तफ्तीश शुरू करती है. वो मेनेजर से सारा प्रोसेस समझते हैं और इसके बाद मेनेजर को बोलते हैं की इस ब्रांच में और जिन जिन व्यापारियों के लाकर हैं सबको बुलवा कर उनके लाकर चेक करवाए. मेनेजर सारे ज्वेलर्स को बुलाता है और उनके लाकर चेक करने पर पता चलता है की कुल 12 करोड़ के हीरे लाकर से गायब हुए हैं.

Here is the inside story of the case:
http://thrill-suspense.blogspot.com/2014/07/crime-patrol-diamond-heist-by.html


No comments:

Post a Comment

You comment will be live after moderation....